कोरोना वायरसविश्व

चीन के इस शहर में फिर से लगा लॉकडाउन, 13 लाख लोगों को टेस्ट कराने का आदेश

चीन के वुहान से निकला कोविड-19 दुनियाभर में करोड़ों से ज्यादा लोगों को संक्रमित कर चुका है और लाखों लोग इसकी वजह से अब तक जान

चीन के वुहान से निकला कोविड-19 दुनियाभर में करोड़ों से ज्यादा लोगों को संक्रमित कर चुका है और लाखों लोग इसकी वजह से अब तक जान गंवा चुके हैं. अमेरिका और भारत जैसे देशों में कोरोना वायरस की काफी लहरों ने तबाही मचा दी थी. चीन में इसका असर कम देखा जा रहा था, परन्तु इधर पिछले कुछ महीनों में चीन में भी कोरोना के मामले आए-दिन बढ़ते जा रहे हैं.

चीन के सबसे बड़े शहर शंघाई (Shanghai) जिले के सभी 13 लाख लोगों की कोविड-19 जांच करवाने का निर्णय दिए. साथ में यह भी फरमान भी लागू किया गया है कि जांच रिपोर्ट आने तक सभी लोग अपने घरों से न निकलें.

इसी प्रकार के आदेश इस साल गर्मियों में भी दिए गए थे, जिसके बावजूद पूरे शहर में दो महीने तक लॉकडाउन लगा. इससे ढाई करोड़ की आबादी वाले शहर की स्थानीय अर्थव्यवस्था बर्बाद हो गई थी, खाद्यान्न की भी भारी मात्रा में हो गई थी, लोगों और अधिकारियों के बीच झगड़ा हो गया था.

चीन अपनी ‘शून्य कोविड’ नीति पर चल रहा है. इतना ही नहीं चीन के लोगों को कोरोना वायरस रोधी कड़े इलाज से आराम की उम्मीद है, क्योंकि यह उपाय अब भी देश में चल रहा हैं, जबकि दुनिया के कई देशों ने इन्हें हटाना शुरू भी कर दिया है.\

चीन ने कहा है कि देश में कोविड के पुरे मामले 2 लाख, 58 हजार, 660 हो गए हैं, जबकि 5226 लोगों की मौत हो गयी है. इस बीच कारोबारी पत्रिका ‘काईचिन’ के अनुसार, चीन में पाबंदियां अभी भी बरकरार रहने के उम्मीद है और शंघाई हुआनपू नदी में एक द्वीप पर स्थित पृथक-वास केंद्र बनाने की परियोजना पर कार्य कर रहा है.

Accherishtey

यह भी पढ़ें: भारत में इन 4 धांसू कारों के आने वाले हैं सीएनजी मॉडल, इस साल होंगी लॉन्च

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button