विश्व

चीन में बच्चों में फैल रही निमोनिया संबंधित नई बीमारी, स्वास्थ्य मंत्रालय अलर्ट

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय चीन में बच्चों में H9N2 के प्रकोप और श्वसन संबंधी बीमारी के समूहों पर बारीकी से रख रहा है नजर

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया है कि वे चीन में हो रही H9N2 बीमारी और श्वसन संबंधी समूहों की स्थिति को ध्यान से देख रहे हैं। चीन से आने वाली रिपोर्टों के अनुसार, इस संबंध में भारत को कम खतरा है।

चीन में बच्चों के बीच नया निमोनिया संक्रमण तेजी से फैल रहा है, जिस पर विशेषज्ञों की चर्चा विभिन्न देशों में हो रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय भारत में भी H9N2 बीमारी और श्वसन संबंधी समूहों पर नजर रख रहा है।

मंत्रालय ने बताया कि उत्तरी चीन में बच्चों में H9N2 मामलों की निगरानी हो रही है और वे इसे ध्यान में रख रहे हैं। चीन से आए इन्फ्लूएंजा और श्वसन संबंधी बीमारियों से भारत को कम खतरा है।

विशेषज्ञों का कहना है कि चीन में श्वसन संबंधी बीमारियों के मामले हाल ही में बढ़े हैं। इसके निर्देशों के आधार पर प्राथमिक बालग्रस्तों में इस बीमारी के सामान्य कारणों का पता लगाया गया है, लेकिन असामान्य कारणों की पहचान अभी नहीं हुई है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने दावा किया है कि भारत सभी आपात स्थितियों के लिए तैयार है और स्वास्थ्य मुद्दों के समाधान के लिए एक समग्र रोडमैप का अनुसरण कर रहा है। कोरोना महामारी के बाद स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे में महत्वपूर्ण मजबूती आई है।

इसके अतिरिक्त, विशेषज्ञों ने कोरोना महामारी के दौरान उन्हें दूसरी स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करने का अनुभव भी हासिल किया है। एवियन इन्फ्लूएंजा के मामलों के खिलाफ तैयारी पर चर्चा हाल ही में डीजीएचएस की अध्यक्षता में बैठक हुई थी, जिसकी रिपोर्ट विश्व स्वास्थ्य संगठन को दी गई थी।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, एवियन इंफ्लूएंजा के मानव से मानव में फैलने की कम संभावना है और इसकी मृत्यु दर भी बहुत कम है। बैठक में पशुपालन और वन्य जीवन क्षेत्रों के बीच निगरानी को मजबूत करने और समन्वय में सुधार की आवश्यकता को पहचाना गया है।

Accherishtey

Related Articles

Back to top button