विश्व

World Peace Day 2021: दुनिया में बढ़ रहा है अशांति का माहौल, ये है वजह

World Peace Day के दिन शांति से ज्यादा अशांति पर चर्चा करना मजबूरी है। अफ़्रीकी और एशियाई देशों में अस्थिरता और गृह युद्ध का आलम बना हुआ है।

World Peace Day के दिन शांति से ज्यादा अशांति पर चर्चा करना मजबूरी है। अफ़्रीकी और एशियाई देशों में अस्थिरता और गृह युद्ध का आलम बना हुआ है। अजरबैजान और अर्मेनिआ के बिच नागोरनो-काराबाख को लेकर जंग भले ही शांत हो चुकी है लेकिन तनाव अभी भी बरक़रार है।

अमेरिका बनाम ईरान :

वर्ष 2020 में कासिम सुलेमान की हत्या के बाद दोनों देशो के बीच तनाव की स्तिथि पैदा हो गई, जिसके चलते इराक में स्थित अमेरिकी एयरबेस पर हमला किया गया।

चीन और अमेरिका की गुटबाजी :

अमेरिका ने क्वाड के बाद ऑकस नाम का एक और गठबंधन तैयार किया है। क्वाड में ऑस्ट्रेलिया, अमेरिका, जापान और भारत जैसे देश शामिल है, जबकि ऑकस में ब्रिटेन, अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया शामिल है। इस के तहत दक्षिण चीन सागर में अमेरिका और ब्रिटेन के विमान पोत गरज रहे है अमेरिका का मकसद ये है की चीन के खिलाफ भारत, जापान ऑस्ट्रेलिया को मजबूत किया जाये, दूसरी तरफ चीन के साथ उत्तर कोरिया और पाकिस्तान जैसे परमाणु संपन्न देश हैं।

भारत बनाम चीन-पाकिस्तान:

चीन पाकिस्तान को अपना सदाबहार दोस्त बताता है इसलिए हमला होने का खतरा भारत के ऊपर दोनों तरफ से बना हुआ है। पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान और भारत के संबंध न्यूनतम स्तर पर हैं। भले ही चीन पाकिस्तान को लड़ाकू विमान, परमाणु तकनीक और मिसाइल मुहैया करा रहा हो, लेकिन भारत ने एलएसी पर तेवर दिखा कर जता दिया है की भारत हर हमले का मुंहतोड़ जवाब देगा।

radhey krishna auto

ये भी पढ़े:  तालिबानियों के सपोर्ट में उतरा अब यह पाकिस्तानी क्रिकेटर

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button